ब्रेकिंग न्यूज़

कोरोना वायरस के कारण अकोला रेलवे को रिफंड करनी पडी 27.65 लाख रुपये की राशि एवं 5, 430 रिजर्वेशन टिकट हुए रद , रेलवे स्टेशन पर छा रहा सन्नाटा, 16 दिनों में भारी मात्रा में सामान्य टिकट निरस्त हुए

भारत 24tv न्यूज / 19/03/2020. 3:05.pm राजेश अमृतकर ( अकोला रिपोर्टर ) कोरोना का असर : 27.65 लाख के 5,430 रिजर्वेशन रद्द


रेलवे को रिफंड करनी पड़ रही राशि, रेलवे स्टेशन पर छा रहा सन्नाटा, 16 दिनों में भारी मात्रा में टिकट निरस्त

Anchor कोरोना का असर : 27.65 लाख के 5,430 रिजर्वेशन कैंसिल
विश्वभर में आई कोरोना वायरस की आपदा से आज पूरा विश्व परेशान नजर आ रहा है। जहां पूरे विश्व के बाजारों में मंदी की स्थिति पैदा हो गई है वही भारतीय रेलवे भी कोरोना की समस्या से जुझता नजर आ रहा है। अकेले अकोला रेलवे स्थानक पर 16 दिनों में 27.65 लाख के 5430 टिकट कैंसिल हो गए है। कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट का असर रेलवे में निरस्त हुए आरक्षण टिकट के रूप में सामने आया है। अकोला रेलवे स्टेशन पर कुल 5,430 यात्रियों ने अपने आरक्षण निरस्त कराकर भीड़भाड़ वाली जगह पर जाने से बचने की कोशिश की हैं। रेलवे को राजस्व की चपत से इतर लोगों की जागरुकता देखने को मिली है। अकोला रेलवे स्टेशन के वरिष्ठ अधिकारी की ओर से जानकारी दी गई है कि 01 से 16 मार्च के मध्य कुल 5,430 यात्रियों ने विभिन्न ट्रेनों में आरक्षित टिकट कैंसिल कराए हैं। कैंसिल टिकट के एवज में रेलवे को 27,65,306 रुपए रिफंड करना पड़ा है। इसी प्रकार रेलवे की ओर से बताया कि होली के बाद से रेलवे टिकट कैंसिल होने की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है।

16 को सबसे ज्यादा कैंसिल

कोरोना वायरस से ग्रस्तों क बढ़ती संख्या को देखते हुए अधिकांश मुसाफिरों ने ट्रेनों से सफर करना उचित नहीं समझा यही वजह है कि सर्वाधिक रिजर्वेशन 16 मार्च को कैंसिल हुए। प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला रेलवे स्थानक से मुसाफिरों ने 1 हजार 20 रिजर्वेशन कैंसिल किए जिस कारण रेलवे प्रशासन को 4 लाख 50 हजार 800 रुपए रिफंड करना पड़ा। रेलवे प्रशासन की ओर से बताया गया है कि करीब 31 मार्च तक ट्रेनों की यही स्थिति रह सकती है। जिससे रेलवे के राजस्व को भारी क्षति हो सकती है।

कैसिंल से भी रेलवे को फायदा
कोरोना वायरस की दहशत के कारण रेलवे ने प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाकर 50 रुपये कर दिए हैं। वहीं यात्री भी अपने सारे प्लान कैंसिल करके घर में रहना ज्यादा सुरक्षित समझ रहे हैं। इसी कारण 16 दिनों में अकोला रेलवे स्टेशन से 5,430 रिजर्वेशन टिकट कैंसिल हो गए । बता दें कि इससे रेलवे को बहुत फायदा हुआ। रेलवे ने टिकट कैंसिल के जरिए भी कमाई कर ली है। क्योंकि टिकट कैंसिल करने के एवज में रेलवे मुसाफिरों को राशि काट कर रिफंड करता है।

नागपुर-सोलापुर ट्रेन निरस्त
मध्य रेलवे ने यात्रियों के अल्प प्रतिसाद को देखते हुए ट्रेनें निरस्त करने का निर्णय लिया है। ट्रेन क्रमांक 02111 सोलापुर – नागपुर विशेष ट्रेन को प्रस्थान रेलवे स्टेशन से 22 से 29 मार्च तक रद्द कर दी गई है। 02112 अप नागपुर – सोलापुर विशेष ट्रेन प्रारंभिक स्टेशन से 23 से 30 मार्च तक निरस्त रहेगी। 02113 सोलापुर – नागपुर विशेष ट्रेन प्रारंभिक रेलवे स्टेशन से 19 से 26 मार्च तक रद्द कर दी गई है। 02114 नागपुर – सोलापुर विशेष ट्रेन प्रारंभिक स्टेशन से 20 से 27 मार्च तक निरस्त रहेगी।

छोटे स्टेशनों के प्लेटफार्म टिकटों में अस्थायी रूप से बढ़ोतरी

रेल प्रशासन की तरफ से कोरोना से होने वाले दुष्प्रभाव को रोकने के लिए भुसावल मंडल के कुछ नामांकित स्टेशन के प्लेटफार्म टिकट के किराये में अस्थायी रूप से बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया गया है। भुसावल मंडल के कुल 14 स्टेशन के प्लेटफार्म टिकट के किराये में बढ़ोतरी की जाएगी जो की प्लेटफार्म टिकट जो 10 रु का मिलता है वह अब 15.04.2020 तक 30 रूपये का किया गया है। जिनमें वृध्दि की गई है उनमें देवलाली, लासलगांव , निफाड, नांदगांव, चालीसगांव, धुले, पाचोरा , बोदवड, मलकापुर, नांदुरा, मुर्तिजापुर, रावेर, बुरहानपुर और नेपानगर का समावेश है।

Anchor कोरोना का असर : 27.65 लाख के 5,430 रिजर्वेशन कैंसिल
*राजेश अमृतकर*
विश्वभर में आई कोरोना वायरस की आपदा से आज पूरा विश्व परेशान नजर आ रहा है। जहां पूरे विश्व के बाजारों में मंदी की स्थिति पैदा हो गई है वही भारतीय रेलवे भी कोरोना की समस्या से जुझता नजर आ रहा है। अकेले अकोला रेलवे स्थानक पर 16 दिनों में 27.65 लाख के 5430 टिकट कैंसिल हो गए है। कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट का असर रेलवे में निरस्त हुए आरक्षण टिकट के रूप में सामने आया है। अकोला रेलवे स्टेशन पर कुल 5,430 यात्रियों ने अपने आरक्षण निरस्त कराकर भीड़भाड़ वाली जगह पर जाने से बचने की कोशिश की हैं। रेलवे को राजस्व की चपत से इतर लोगों की जागरुकता देखने को मिली है। अकोला रेलवे स्टेशन के वरिष्ठ अधिकारी की ओर से जानकारी दी गई है कि 01 से 16 मार्च के मध्य कुल 5,430 यात्रियों ने विभिन्न ट्रेनों में आरक्षित टिकट कैंसिल कराए हैं। कैंसिल टिकट के एवज में रेलवे को 27,65,306 रुपए रिफंड करना पड़ा है। इसी प्रकार रेलवे की ओर से बताया कि होली के बाद से रेलवे टिकट कैंसिल होने की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है।

16 को सबसे ज्यादा कैंसिल

कोरोना वायरस से ग्रस्तों क बढ़ती संख्या को देखते हुए अधिकांश मुसाफिरों ने ट्रेनों से सफर करना उचित नहीं समझा यही वजह है कि सर्वाधिक रिजर्वेशन 16 मार्च को कैंसिल हुए। प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला रेलवे स्थानक से मुसाफिरों ने 1 हजार 20 रिजर्वेशन कैंसिल किए जिस कारण रेलवे प्रशासन को 4 लाख 50 हजार 800 रुपए रिफंड करना पड़ा। रेलवे प्रशासन की ओर से बताया गया है कि करीब 31 मार्च तक ट्रेनों की यही स्थिति रह सकती है। जिससे रेलवे के राजस्व को भारी क्षति हो सकती है।

कैसिंल से भी रेलवे को फायदा
कोरोना वायरस की दहशत के कारण रेलवे ने प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाकर 50 रुपये कर दिए हैं। वहीं यात्री भी अपने सारे प्लान कैंसिल करके घर में रहना ज्यादा सुरक्षित समझ रहे हैं। इसी कारण 16 दिनों में अकोला रेलवे स्टेशन से 5,430 रिजर्वेशन टिकट कैंसिल हो गए । बता दें कि इससे रेलवे को बहुत फायदा हुआ। रेलवे ने टिकट कैंसिल के जरिए भी कमाई कर ली है। क्योंकि टिकट कैंसिल करने के एवज में रेलवे मुसाफिरों को राशि काट कर रिफंड करता है।

नागपुर-सोलापुर ट्रेन निरस्त
मध्य रेलवे ने यात्रियों के अल्प प्रतिसाद को देखते हुए ट्रेनें निरस्त करने का निर्णय लिया है। ट्रेन क्रमांक 02111 सोलापुर – नागपुर विशेष ट्रेन को प्रस्थान रेलवे स्टेशन से 22 से 29 मार्च तक रद्द कर दी गई है। 02112 अप नागपुर – सोलापुर विशेष ट्रेन प्रारंभिक स्टेशन से 23 से 30 मार्च तक निरस्त रहेगी। 02113 सोलापुर – नागपुर विशेष ट्रेन प्रारंभिक रेलवे स्टेशन से 19 से 26 मार्च तक रद्द कर दी गई है। 02114 नागपुर – सोलापुर विशेष ट्रेन प्रारंभिक स्टेशन से 20 से 27 मार्च तक निरस्त रहेगी।

छोटे स्टेशनों के प्लेटफार्म टिकटों में अस्थायी रूप से बढ़ोतरी

रेल प्रशासन की तरफ से कोरोना से होने वाले दुष्प्रभाव को रोकने के लिए भुसावल मंडल के कुछ नामांकित स्टेशन के प्लेटफार्म टिकट के किराये में अस्थायी रूप से बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया गया है। भुसावल मंडल के कुल 14 स्टेशन के प्लेटफार्म टिकट के किराये में बढ़ोतरी की जाएगी जो की प्लेटफार्म टिकट जो 10 रु का मिलता है वह अब 15.04.2020 तक 30 रूपये का किया गया है। जिनमें वृध्दि की गई है उनमें देवलाली, लासलगांव , निफाड, नांदगांव, चालीसगांव, धुले, पाचोरा , बोदवड, मलकापुर, नांदुरा, मुर्तिजापुर, रावेर, बुरहानपुर और नेपानगर का समावेश है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close